I said I liked you

I meant every cell in my being

Would die in pain without you

Said you have a nice smile

I meant without it

I’ll have a dismal life

Said I like your voice

Meant if you don’t talk to me

My heart can’t function properly

Said your eyes are deep

Meant with your every gaze

I keep losing me to become you

Said I called for no reason

Meant without you in my day

I can’t survive a single moment

The day I say I love you

Beware my beloved

I won’t be a lover anymore

I will be a worshipper

I will breathe for you

I will live to love you

And I will die for you

***

The same poem in Hindi:

अल्फ़ाज़ थे तुम अच्छे लगते हो

कहना चाहा कि तुम

रूह में मेरी बसते हो

अल्फ़ाज़ थे मुस्कान आपकी सुन्दर

कहना चाहा बिन इसके

जीवन मेरा मरूस्थल

अल्फ़ाज़ थे आवाज़ में आपकी खनक

कहना चाहा न सुनूँ इसे

धड़कन मेरी बंद होने लगे

अल्फ़ाज़ थे आपकी आँखों में मदहोशी

कहना चाहा आपकी निगाहों का असर

मैं खोके खुदको बस रह्ँ तुम्हारी

अल्फ़ाज़ थे तुम्हें यूँ ही पुकारा

कहना चाहा मेरा दिन

बिन तुम्हारे था अधूरा

जिस दिन कहूँ इश्क हो गया

दिलबर तुम समझ लेना

महबूबा नहीं अब मैं तुम्हारी

बन जाऊँगी तुम्हारी मीरा

साँसें चलेंगी तुम्हारे लिये

ज़िन्दगी का मकसद तुम्हें चाहना

और तुम्हारे लिये ही होगा मरना

***

Advertisements